Director Desk

सिविल सर्विसेज हेतु फाउंडेशन कोर्स क्या है ?

इस कोर्स में विद्यार्थी ग्रेजुएशन के साथ -साथ सिविल सेवा IAS/RAS व अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करता है |

फाउंडेशन कोर्स के लाभ :-

  • ग्रेजुएशन के साथ-साथ तैयारी करने से विद्यार्थीयों के समय की बचत होती है , उन विद्यार्थीयों की तुलना में जो ग्रेजुएशन के बाद तैयारी शुरू करते हैं |
  • जैसा की हम जानते हैं कि प्रतियोगी परीक्षा हेतु न्यूनतम आयु 21 वर्ष होती है | व अधिकतर विद्यार्थीयों ग्रेजुएशन के बाद तैयारी शुरू करने का विचार करते है | एवम् इस दुविधा में रहते है की किस प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी करें |
  • यदि विद्यार्थीयों फाउंडेशन कोर्स ( ग्रेजुएशन के साथ -साथ ) करता है , तो वह उचित समय रहते IAS / RAS के साथ-साथ अन्य प्रतियोगिता परीक्षाओं की तैयारी कर लेता है |
  • ऐसा देखने में आता है कि जो विद्यार्थी IAS / RAS फाउंडेशन कोर्स ( ग्रेजुएशन के साथ-साथ ) कर लेते हैं | उनका प्रतियोगी परीक्षा में सफलता का औसत अन्य परीक्षार्थीयों , जो ग्रेजुएशन के बाद तैयारी शुरू करते हैं , की तुलना में शत-प्रतिशत अधिक रहता है |